Home / LIVE TV / 1 कांग्रेस नेता और 3 पुलिसकर्मी 1 करोड़ रुपये लूटने के आरोप में गिरफ्तार

1 कांग्रेस नेता और 3 पुलिसकर्मी 1 करोड़ रुपये लूटने के आरोप में गिरफ्तार

उन पर प्रॉपर्टी डीलर अनुरोध पंवार को लूटने के आरोप लगाए गए हैं, जिसके पास एक काले थैले में एक करोड़ रुपया था. पंवार ने शुरुआती जांच अधिकारी को कहा था कि पैसे का प्रयोग उत्तराखंड में 11 अप्रैल को होने वाले चुनाव के लिए किया जाना था|

उत्तराखंड पुलिस ने कथित रूप से एक करोड़ रुपये के नोटों से भरे एक बैग को लूटने के आरोप में एक कांग्रेस नेता और तीन पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिसकर्मिंयों को विभाग से बर्खास्त भी किया सकता है. पुलिस पकड़े गए चारों आरोपियों से लगातार पूछताछ कर रही है।

पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) अशोक कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि सभी चारों आरोपियों को मंगलवार की रात गिरफ्तार किया गया. पकड़े गए आरोपियों की पहचान कांग्रेस नेता अनुपम शर्मा, सब इंस्टपेक्टर दिनेश नेगी, कांस्टेबल मनोज अधिकारी और पुलिस ड्राइवर हिमांशु उपाध्याय के रूप में हुई है|

डीजी के मुताबिक, घटना 4 अप्रैल की है. इन चारों पर पहले से कई आरोप हैं. अब उन पर प्रॉपर्टी डीलर अनुरोध पंवार को लूटने के आरोप लगाए गए हैं, जिसके पास एक काले थैले में एक करोड़ रुपया था. पंवार ने शुरुआती जांच अधिकारी को कहा था कि पैसे का प्रयोग उत्तराखंड में 11 अप्रैल को होने वाले चुनाव के लिए किया जाना था|

प्रारंभिक जांच से पता चला कि पंवार जोकि अपनी कार में पैसे को ले जा रहा था, उसे 4 अप्रैल की रात को पुलिसकर्मियों की एक टीम ने रोका. चुनाव का हवाला और कालेधन की तलाशी के नाम पर तीनों पुलिसकर्मियों ने पनवर का बैग जब्त कर लिया. पुलिसकर्मियों ने पनवर को धमकाया और उसे वहां से भाग जाने के लिए कहा|

2 या 3 दिनों के बाद, पनवर ने पैसे के बारे में पता लगाना शुरू किया और विभिन्न पुलिस स्टेशनों के चक्कर लगाए. लेकिन उसे अपने बैग और पैसे के बारे में कोई जानकारी नहीं मिली. इसके बाद परेशान होकर पंवार ने एक एफआईआर दर्ज कराई और पूरी घटना के बारे में वरिष्ठ पुलिस अधिकारी को सूचित किया|

एसएसपी ने इस मामले की जांच रिद्धिम अग्रवाल की अगुवाई में विशेष कार्य बल (SIT) को सौंप दी. एक सप्ताह की जांच के बाद, एसआईटी ने चार लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया. SSP ने बताया कि तीनों पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया गया है. उन्हें पुलिस विभाग से बर्खास्त भी किया जा सकता है, क्योंकि यह मामला पुलिस विभाग के लिए शर्मिंदगी का विषय है|

एसएसपी ने बताया कि हमारी जांच अभी भी जारी है. हम फिर चारों से पूछताछ करेंगे. इसी बीच भाजपा ने चुनाव में कालेधन के प्रयोग को लेकर कांग्रेस की आलोचना की है. भाजपा के एक प्रदेश प्रवक्ता ने कहा कि पहले दिन से, हमें रिपोर्ट मिल रही है कि कांग्रेस राज्य में कालेधन का प्रयोग कर रही है|

Aone Punjabi TV

About Shilpa

Check Also

Itihas Di Teh Tak | Episode 15 | Aone Punjabi Tv |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *